एनीमिया दूर करने के आसान घरेलु उपाय। एनीमिया क्यों होता है  

एनीमिया मतलब शरीर में खून की कमी हो जाना है जब हमारे शरीर में लौह-तत्व की कमी हो जाती है तो हीमोग्लोबिन भी घट जाता है हीमोग्लोबिन घटने से हमारे रेड ब्लड सेल्स ऑक्सीजन को पूरी बॉडी में ठीक से नहीं पंहुचा पाते है इससे बॉडी में खून की कमी हो जाती है जिसे हम मेडिकल भाषा में एनीमिया कहते है देखा जाये तो एनीमिया कोई बीमारी नहीं है परन्तु यह ढेर सारी बिमारियों का कारण जरूर है इससे महिलाएं अधिक पीड़ित है ज्यादातर 90 प्रतिशत भारतीय महिलाये एनीमिया से परेशान है।एनीमिया दूर करने के आसान घरेलु उपाय बहुत से है जिनको अपनाकर हम आसानी से एनीमिया ठीक कर सकते है। 

वर्ल्ड हेल्थ ओर्गनइजेशन (WHO  )के अनुसार एनीमिया क्या है 

 जब खून में RBC एवं हीमोग्लोबिन की मात्रा घट जाती है तो उसे एनीमिया से पीड़ित कह सकते है वर्ल्ड हेल्थ ओर्गनइजेशन (WHO  )के अनुसार-एक सामान्य महिला में हीमोग्लोबिन की मात्रा 12 से 16.5g /dl  के बीच होना चाहिए एवं पुरुषों में यह 13 से 17.5g /dl होनी चाहिए। अगर हम रेड ब्लड सेल्स ( RBC )की बात करे तो यह एक वयस्क मनुष्य में 4 .50 लाख से 5 .50 लाख के बीच होनी चाहियें।

क्यों होता है एनीमिया –

एनीमिया होने के कई अलग अलग कारण है अक्सर शरीर में विटामिन एवं प्रोटीन की कमी हो जाने से एनीमिया हो जाता है क्योकि विटामिन व् प्रोटीन हमारे शरीर में रेड ब्लड सेल्स को बनाने में सहायक होती है हमारी रेड ब्लड सेल्स का जीवनकाल 100 से 120 दिन का होता है इस दौरान रेड ब्लड सेल्स को बढ़ाने एवं घटाने वाले घटक ही एनीमिया के कारण बनते है

 एनीमिया के मुख्य कारण –

एनीमिया या खून के कमी होने के कुछ मुख्य कारण इस प्रकार हैं –

1 .आयरन की कमी-

आयरन की कमी होना एनीमिया का मुख्य कारण है आयरन की कमी से हीमोग्लोबिन भी घट जाता है जो हमारे  शरीर में रेड ब्लड सेल्स को बढ़ाता है।

2 .विटामिन बी 12 एवं फॉलिक एसिड की कमी

विटामिन बी 12 एवं फॉलिक एसिड की कमी से हमारे शरीर में नई रेड ब्लड सेल्स बनना बंद हो जाती है जिससे हमारे बॉडी में खून की कमी हो जाती है।

3 .प्रेगनेन्सी के कारण –

ज्यादातर महिलाओं में एनीमिया प्रेगनेन्सी के दौरान हो जाता है क्योकि प्रेगनेन्सी के दौरान महिलाओं को ज्यादा ब्लड और ऑक्सीजन की जरूरत होती है जो ठीक से पौष्टिक आहार न लेने से पूरी नहीं हो पाती है जिससे रेड ब्लड सेल्स का निर्माण तेजी से नहीं हो पता और बॉडी में खून की कमी हो जाती है और महिलाएं एनीमिया ग्रसित हो जाती है।

4.महिलाओं में मासिक धर्म के कारण –

महिलाओं को हर महीने मासिक धर्म होना प्राकृतिक कारणों से है परन्तु कुछ महिलाओं में मासिक धर्म के दौरान अधिक रक्त स्राव हो जाता है जिससे उनके शरीर में खून की कमी हो जाती है।

5 .किसी गंभीर बीमारी का होना –

कुछ बीमारियां बहुत गंभीर होती है जो शरीर से जाने का नाम नहीं लेती। क्षयरोग,गुर्दे की बीमारी से पीड़ित लोगो में अक्सर एनीमिया हो जाता है।

6 .बुढ़ापा होने के कारण –

उम्र घटने के साथ साथ हमारे शरीर में इम्युनिटी भी घटती जाती है जिससे शरीर में नई ब्लड सेल्स बनने में समय लगता है और बॉडी में खून की कमी हो जाती है।

.एनीमिया के कुछ अन्य कारण –

-बवासीर होने से भी शरीर में खून की कमी हो जाती है।

-पेट में अल्सर या पथरी होने से एनीमिया हो जाता है।

-संतुलित भोजन न करने से भी एनीमिया हो जाता है।

-गुर्दे की बीमारी में खून की कमी हो जाती है।

-विटामिन व मिनरल्स की कमी से एनीमिया हो जाता है।

एनीमिया के लक्षण –

शरीर में खून की कमी होने से लोगो को कई प्रकार की गंभीर बीमारियां हो जाती है एवं कई प्रकार के लक्षण भी दिखाई देते है प्रत्येक व्यक्ति में ये लक्षण अलग अलग दिखाई देते है एनीमिया के लक्षणों को पहचानना बहुत ही आसान है क्योकि इसके ज्यादातर लक्षण शरीर के बाहर ही दिखाई देते है खून की कमी से हमारी त्वचा को बहुत हानि होती है इसका रंग उतर जाता है जिससे एनीमिया के लक्षणों को आसानी से पहचाना जा सकता है जो इस प्रकार है –

-आँखों के नीचे काले घेरे हो जाना।

-अधिक थकान महसूस होना।

-शरीर का पीला पड़ जाना।

-बार -बार चक्कर आना।

-जी मिचलाना।

-सीने में दर्द व जलन होना।

-साँस लेने में दिक्कत होना।

-चेहरे का मुरझा जाना।

-बालों का झड़ना।

-हाथ पैर में दर्द व ऐठन होना।

-दिल की धड़कन तेज हो जाना।

-पढ़ाई करते समय आंखे तिलमिलाना व चक्कर आना।

एनीमिया ठीक करने के उपाय –

एनीमिया कोई बीमारी नहीं है परन्तु एनीमिया होने से हजारों बीमारियां हमारे शरीर को घेर लेती है इसलिए ऐसे जल्द ठीक करना बहुत जरूरी है एनीमिया ठीक करने से पहले हमे यह जानना होगा की एनीमिया किस कारण से हुआ है यदि हम एनीमिया होने का मुख्य कारण पता लगा लेते है तो इसे हम आसानी से ठीक कर सकते है एनीमिया दूर करने के आसान घरेलु उपाय इस प्रकार है –

1 .ज्यादातर एनीमिया आयरन की कमी से होता है इसलिए यदि आपको पता चल जाये की आपको एनीमिया है तो आपको आयरन से भरपूर भोजन करना चाहिए जिसमे -पालक और ब्रोकली बहुत ही फायदेमंद है।

2 .यदि आपको एनिमिया विटामिन की कमी से हुआ है तो आपको विटामिन से भरपूर फलों का सेवन करना चाहिए।

3 .चुकंदर के सेवन से शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ता है इसलिए एनिमिया में ऐसे रोजाना सुबह शाम नाश्ते में खाना चाहिए।

4 .यदि आपको खून की कमी है तो आपको रोज सुबह -सुबह कच्ची पनीर का सेवन करना चाहिए ये खून को बढ़ाती है।

5 .विटामिन बी 12 से भरपूर फलों एवं आहार का सेवन करे या फिर विटामिन बी 12की टेबलेट भी ले सकते है।

6 .हरी पत्तेदार सब्जियों के सेवन से भी खून बढ़ता है।

एनीमिया ठीक करने के उपाय

7 .रोजाना दूध पिए इससे शरीर में खून बढ़ता है।

8 .जल्दी खून बढ़ाने के लिए रोजाना सुबह सुबह भिगोई किशमिश का सेवन करे।

9 .अधिक से अधिक पानी पियें जिससे जल्दी खून बने।

10 .सुबह थोड़ी देर सूरज की धुप ले व दिन में दो बार ठन्डे पानी से नहाएं।

एनीमिया दूर करने के आसान घरेलु उपाय –

एनीमिया हमारे खराब खान पान से उत्त्पन्न एक विकार है जिसे हम कुछ आसान घरेलु उपायों को अपनाकर आसानी से ठीक कर सकते है जो इस प्रकार हैं –

1 .चुकंदर का सेवन –

चुकंदर में भरपूर मात्रा में आयरन ,सोडियम ,पोटैशियम व फास्फोरस पाया जाता है जो ब्लड को बढ़ाने में बहुत महत्वपूर्ण है इसका सेवन हम सलाद के रूप में व् चुकंदर का जूस बनाकर भी पी सकते है यह सभी तरह से हमारे लिए बहुत फायदेमंद है।

2 .अनार का सेवन –

अनार में भरपूर मात्रा में विटामिन A ,C ,E आदि पायी जाती है जो हमारे शरीर में नई रक्त कोशिकाओं को बनाने में सहायक होती है इसलिए एनीमिया में अनार बहुत फायदेमंद होता है इसका सेवन हम जूस के रूप में या फिर अनार के दानों में काला नमक मिलाकर हम रोजाना सुबह सुबह नाश्ते के रूप में ले सकते है।

3 .दाल का सेवन –

दालों में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पायीं जाती है जो हमारे शरीर में खून को बढ़ाने में सहायक होती है इसलिए हमे अपने भोजन में दालों को जरूर शामिल करना चाहिए।

4 .खजूर का सेवन –

खजूर में प्रचुर मात्रा में आयरन पाया जाता है एवं आयरन के साथ -साथ खजूर में विटामिन बी 1 ,बी 2 ,बी 3 ,बी 5 ,ए 1 व विटामिन सी भी भरपूर मात्रा में पायी जाती है जो हमारे शरीर में हिमग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाते है एवं हमारे शरीर को एनीमिया मुक्त बनाते है इसलिए एनीमिया होने पर हमे खजूर का सेवन अवश्य करना चाहिए। खजूर को आप ऐसे भी खा सकते है परन्तु रात को सोते समय एक गिलास दूध में दो खजूर डालकर खाने से जल्दी खून बढ़ता है।

5 .तुलसी का सेवन –

तुलसी के पत्तों में पारा व आयरन की मात्रा पायी जाती है यदि हम रोजाना सुबह सुबह खाली पेट तुलसी के पत्तों का सेवन करते है तो इससे हमारे शरीर में खून बढ़ता है।

एनीमिया होने पर किन -किन चीजों से परहेज करे –

किसी भी बीमारी को जल्दी ठीक करने के लिए दवा के साथ साथ परहेज भी बहुत जरूरी है क्योकि छोटी से गलती ही आपको रोगी बनती है एनीमिया में हमे कुछ चीजों से परहेज करना चाहिए जो इस प्रकार है –

-चाय या काफी का सेवन न करे।

-शराब एवं धूम्रपान से दूर रहे।

-बाहर के जंक फ़ूड का सेवन न करे।

-किसी भी चीज को अधिक मात्रा में न ले।

-ज्यादा ऑयली भोजन न करे।

एनिमिया की जांच कैसे करायें –

एनीमिया की जांच बहुत ही आसान है आप किसी भी नजदीकी पैथोलॉजी से खून की जांच करा सकते है जिससे आपको पता चल जायेगा की आपकी बॉडी में पर्याप्त मात्रा में हीमोग्लोबिन और आरबीसी मौजूद है या नहीं

 

डॉक्टर के पास कब जाएँ –

यदि आप एनीमिया से पीड़ित है और आपको बहुत ज्यादा थकान और सुस्ती महसूस हो रही है काम करते करते आप चक्कर खा के गिर पड़ते है तो आपको तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए क्योकि बहुत ज्यादा खून का कम होना हमारे लिए खतरनाक हो सकता है।

आगे भी पढ़े –

माइग्रेन सिरदर्द के लक्षण एवं उपचार ऐसे पाएं छुटकार

 कब्ज ठीक करने के आसान घरेलु उपाय,कब्ज क्या है।              

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!