टॉप 5 दिमाग की एक्सरसाइज जो दिमाग को दो गुना तेज बनाये ||

टॉप 5 दिमाग की एक्सरसाइज -इस ब्लॉग में हम आपको दिमाग तेज करने वाले पांच एक्सरसाइज के बारे में बताएंगे। हममें से हर कोई हममें से हर कोई अपने दिमाग को कंप्यूटर की तरह तेज करना चाहता है जो ठीक भी है क्योंकि तेज दिमाग से कोई भी व्यक्ति अपने सभी कार्य आसानी से कर सकता है दिमाग स्वस्थ और तेज रहने से आप बड़े से बड़े काम को कम समय में निपटा सकते हैं इसलिए दिमाग का तेज होना बहुत इंपॉर्टेंट है।

दिमाग को तेज करने वाले 5 सुपर फूड का ब्लॉग हमने बना दिया है जिसे नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करके आप पढ़ सकते हैं।

टॉप 5 दिमाग की एक्सरसाइज –

हमारे भारतीय आयुर्वेद में हर बीमारी का इलाज संभव  है हम जिन पांच ब्रेन एक्सरसाइज के बारे में आपको बताएंगे उनका उल्लेख आयुर्वेद में भी देखने को मिलता है।

1. मेडिटेशन –

मेडिटेशन को हमारे आयुर्वेद में बहुत ही अच्छे ढंग से बताया गया है पहले के ज्यादातर ज्ञानी साधु संत लोग मेडटेशन किया करते थे जिससे वे राजाओं के बड़े से बड़े कठिन कार्य भी आसानी से निपटा दिया करते थे मेडिटेशन में दिमाग को 10 गुना तेज करने की क्षमता होती है मेडिटेशन को हमारे आधुनिक वैज्ञानिकों ने भी बहुत ही लाभदायक माना है। अपने दिमाग को तेज करने के लिए आपको रोजाना सुबह शाम 5 से 10 मिनट मेडिटेशन करना चाहिए मेडिटेशन करने के अनगिनत फायदे हैं मेडिटेशन करने से दिमाग तो तेज होता ही है साथी हमारा मन भी शांत रहता है मेडिटेशन से याददाश्त भी तेज हो जाती है। आयुर्वेद की मानें तो मेडिटेशन से हम अपनी इच्छाओं की पूर्ति भी कर सकते हैं वह बड़ी से बड़ी बीमारी को ठीक कर सकते हैं। आज के समय में मेडिटेशन पर कई किताबें लिखी जा चुकी है जिनमें मेडिटेशन के हजारों फायदे बताए गए हैं मेडिटेशन को हम आम भाषा में ध्यान लगाना भी कहते हैं पुराने समय में इसे हम तपस्या करना भी कहते थे।टॉप 5 दिमाग की एक्सरसाइज में से मैडिटेशन सबसे ज्यादा इफेक्टिव है दिमाग को तेज करने में।

मेडिटेशन करने की विधि – मेडिटेशन करने से पहले आपको सर्वप्रथम  एक उचित स्थान तय करना है। यह आपके घर में कहीं पर भी हो सकता है आप अपने बेड रूम पर भी मेडिटेशन कर सकते हैं लेकिन आप जहां पर भी मेडिटेशन कर रहे हैं वहां का माहौल वह वातावरण शांत और सकारात्मक होना बहुत ही आवश्यक है ध्यान रखें मेडिटेशन के समय किसी भी प्रकार का डिस्टरबेंस ना हो। मेडिटेशन करने से पहले आपको उचित स्थान पर शांतिपूर्वक योग मुद्रा में बैठ जाना है फिर धीरे-धीरे सांसे लेना है और छोड़ना है और अपनी आंखों को बंद करके अपनी सांसो पर ध्यान लगाना है शुरू शुरू में आप 5 मिनट ही मेडिटेशन करें फिर धीरे-धीरे आप समय बढ़ाते रहें। कितने समय तक आप मेडिटेशन करेंगे उतना ही आपके दिमाग के लिए क्या लाभदायक साबित होगा।

2. मन में कैलकुलेशन करें –

वैसे तू कैलकुलेशन का प्रयोग हम सब किसी भी हिसाब को जोड़ने के लिए करते हैं कैलकुलेशन का ज्यादातर प्रयोग घर के हिसाब बनाने में या फिर गणित सीखने में किया जाता है लेकिन अगर हम कैलकुलेशन का सही प्रयोग करें तो इससे हमारा दिमाग 2 गुना तेजी से कार्य करेगा। कभी भी कैलकुलेशन करने के लिए या कोई भी हिसाब बनाने के लिए केलकुलेटर का प्रयोग बिल्कुल भी ना करें शुरुआत में आप छोटे छोटे हिसाब अपने माइंड में ही जुड़े घटाएं। फिर जब आप फिर जवाब छोटे-छोटे हिसाब बनाने लगे तो बड़े-बड़े कैलकुलेशन अपने मन में ही करें इससे आपका अभ्यास गहरा होता जाएगा। मन में कैलकुलेशन करने से हमारे दिमाग की ब्रेन सेल्स तेजी से एक्टिव हो जाती हैं और हमारे ब्रेन कि सभी सेल्स एक्टिव होकर कार्य करने लगती हैं जिससे ब्रेन एक्सरसाइज भी होती है और नए न्यूरान भी बनते हैं रोजाना ऐसा करने से हमारा दिमाग तेज होता जाता है।

इसे भी पढ़े – दिमाग कैसे तेज करें ||दिमाग तेज करने वाले 5 सुपरफूड ||

3. दिनचर्या को याद करना –

यह ब्रेन एक्सरसाइज बहुत ही आसान है इसको कोई भी बहुत ही आसानी से कर सकता है । हमेशा रात को सोने से पहले अपने दिमाग को पहले शांत करें फिर सुबह से लेकर रात तक आपने जो जो कार्य किए हैं उन सबको याद करें। यह करते समय आपको छोटे से लेकर बड़े सभी कार्यों को ठीक से याद करना है ऐसा करने से आपकी याद शक्ति तो तेज होगी साथ ही आपका दिमाग सुचारू रूप से कार्य करने लगेगा और हो सकता है आपका कोई कार्य दिन में अधूरा रह गया हो जिसे याद कर लेने से आप उससे समय रहते पूरा कर सकते हैं तो इस एक्सरसाइज को कोई भी व्यक्ति आराम से लेटे हुए कर सकता है।

4. बाएं हाथ से कार्य करना –

अक्सर ज्यादातर लोग अपने सभी कार्यों को दाहिने हाथ यानी राइट हैंड से ही करते हैं क्योंकि बचपन से ही हमें राइट हैंड से कार्य करने की आदत डलाई जाती है जिसके कारण दाहिने हाथ से ही कार्य करने कि हमें आदत हो जाती है और ऐसे में फिर क्यों ना हम सोते समय ही कोई कार्य करें हम दाहिने हाथ का ही ज्यादा प्रयोग करेंगे। क्योंकि हमारे दिमाग को यह पता हो चुका है कि हमें जल्दी से काम करने के लिए सर्वप्रथम दाहिने हाथ को आगे लाना चाहिए ऐसे में अगर हम बाएं हाथ से कार्य करने की एक्सरसाइज करें तो हमारे दिमाग में थोड़ा प्रेशर पड़ेगा। जिससे हमारे दिमाग में नए न्यूरॉन्स बनेंगे और हमारा दिमाग तेजी से कार्य करेगा बाएं हाथ से कार्य करते समय हमारे दिमाग को ज्यादा सोचने की जरूरत पड़ेगी जिससे दिमाग के सभी भाग एक्टिव हो जाएंगे।

5. ओम मंत्र जाप –

मंत्रों के जाप के फायदों के बारे में हमारे वेद पुराणों में बहुत ही विस्तार पूर्वक बताया गया है मंत्र के जाप से दिमाग तेज करने के अलावा हमें मोक्ष की प्राप्ति और बड़ी से बड़ी बीमारी से छुटकारा मिल सकता है आइए जानते हैं ओम मंत्र के जाप से हम कैसे अपने दिमाग को कंप्यूटर से भी तेज बना सकते हैं। ओम मंत्र जाप करते समय हमारे समस्त शरीर में वह खासकर मुंह में वाइब्रेशन जनरेट होता है जिससे हमारी ब्रेन सेल्स तेजी से एक्टिव हो जाती है और हमारे दिमाग में ब्लड आसानी से पहुंच जाता है ओम का जाप हम जितनी देर तक करेंगे हमारा दिमाग उतना ही तेज एक्टिव और ऊर्जावान बनेगा। सनातन धर्म के हिसाब से ओम बहुत ही पवित्र शब्द है जिस के जाप से हम भगवान को प्राप्त कर सकते हैं या मोक्ष की प्राप्ति भी कर सकते हैं ओम मंत्र के जाप से सभी समस्याएं दूर हो जाती हैं वह घर में लक्ष्मी का प्रवेश भी होता है।

इसे भी पढ़े – माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने के 10 आसान उपाय 

मेरे प्यारे दोस्तों ये थे टॉप 5 दिमाग की एक्सरसाइज अगर आपको मेरे ब्लॉक अच्छे लगते हैं तो मुझे कमेंट में जरूर बताएं और इस ब्लॉग पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना बिल्कुल भी ना भूले उनको भी बताएं कि यह 5 एक्सरसाइज करके वह अपने दिमाग को तेज कर सकते हैं मिलते हैं अगले ब्लॉग में धन्यवाद

इसे भी पढ़े – डार्क चॉकलेट खाने के फायदे || dark chocolate ke fayde

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!